दिल्ली में साफ़-सफ़ाई को लेकर बीजेपी ने नहीं किया अपना वादा पूरा, 120 दिन के वादे में से आधा समय निकला लेकिन हालात जस के तस

0
64
बीजेपी ने एमसीडी के लिए सीधा केंद्र से पैसा लाने का किया था वादा, लेकिन आज भी निगम कर्मचारी अपने बकाए के इंतज़ार में
दिल्ली एमसीडी चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने वादा किया था कि अगर दिल्ली की जनता एमसीडी में बीजेपी को चुनती है तो बीजेपी सिर्फ़ 120 दिन में दिल्ली को साफ़ करके दिखा देगी, अब आधा समय तो निकल चुका है लेकिन दिल्ली में साफ़-सफ़ाई को लेकर भाजपा शासित एमसीडी को हाईकोर्ट लगातार फटकार लगा रहा है। तो वहीं दूसरी एक वादा और बीजेपी ने एमसीडी के सफ़ाई कर्मचारियों से किया था कि अगर बीजेपी निगम की सत्ता में आई तो केंद्र से सीधा पैसा एमसीडी को दिलाएगी और सभी कर्मचारियों का बकाया जल्द ही दे दिया जाएगा लेकिन आज भी निगम कर्मचारी अपना बकाया पाने का इंतज़ार कर रहे हैं।
पार्टी कार्यालय में प्रैस कॉंफ्रेंस में पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता दिलीप पांडे ने कहा कि ‘भारतीय जनता पार्टी ने एमसीडी चुनाव से पहले यह वादा किया था कि वो 120 दिन में दिल्ली को साफ़ करके दिखा देंगे लेकिन आज उसमें से 60 दिन का आधा वक्त बीत गया है और हम मनोज तिवारी जी से पूछना चाहते हैं कि क्या बीजेपी शासित एमसीडी ने आधी दिल्ली को साफ़ कर दिया है? हक़ीक़त यह है कि चाहे कोर्ट हों या दूसरी संवैधानिक एजेंसियां, सब बीजेपी शासित एमसीडी को उसके निक्कमेपन पर अभी भी उसी तरह से लताड़ लगा रही हैं जैसे पूर्व में लगाती आई हैं और हक़ीक़त यह है कि दिल्ली में साफ़-सफ़ाई को लेकर हालात उतने ही ख़राब हैं जितने कि पिछले 10 साल से रहे हैं।
दूसरा वादा बीजेपी ने यह किया था कि वो नियम कानून को दरकिनार करते हुए एमसीडी के लिए सीधा केंद्र सरकार से पैसा लेकर आएंगे लेकिन हक़ीक़त यह है कि आज भी दिल्ली नगर निगम के कर्मचारी अपने बकाया एरियर्स और तनख्वाह के लिए इंतज़ार कर रहे हैं उपर से बीजेपी निगम कर्मचारियों को दिल्ली सरकार के ख़िलाफ़ हड़ताल करने के लिए उकसा भी रही है । हम पूछना चाहते हैं श्री मनोज तिवारी जी से कि वो झोला लेकर केंद्र सरकार के पास पैसे लेने कब जा रहे हैं? क्योंकि यह वादा चुनाव से पहले बीजेपी ने ही किया था। हम भारतीय जनता पार्टी के दिल्ली नेतृत्व से दिल्ली की जनता की तरफ़ से इन दोनो ही सवालों का जवाब मांग रहे हैं क्योंकि भाजपा ने चुनाव से पहले ये वादे दिल्ली की जनता से किए थे लेकिन वादे करके बीजेपी भूल गई है। हम दिल्ली की जनता के हित में भाजपा को उनके वादे याद दिला रहे हैं और जवाब मांग रहे हैं।
 


Leave a Reply