बैतुल/मध्यप्रदेश: युवाओं द्वारा भूख हड़ताल जारी रहेगी, जब तक नकली आदिवासी सांसद की न्यायिक जांच नही होती!

0
18

बैतूल/मध्यप्रदेश 20 मार्च 2018

dav

आदिवासी समाज संगठनों के द्वारा लगातार 5 वें दिन भूख हड़ताल जारी है। 19 मार्च सुबह 9 बजे पुलिस प्रशासन के द्वारा धरना स्थल पर बैठे जयस कार्यकर्ता ज्ञानसिंह परते, निमिष सरियाम, दिनेश उइके जो लगातार 5 दिनों से भूख हड़ताल में बैठे है, उन्हें पुलिस अधिकारियो और जिला चिकित्सालय में प्राथमिक उपचार कराया गया। इस दौरान पुलिस अधिकारी के साथ ज्ञानसिंह परते, निमिष सरियाम की नोकझोंक हुई।
निमिष सरियाम ने लिखित में कहा कि जब तक सांसद ज्योति धुर्वे के फर्जी जाति प्रमाणपत्र वाले मामले में न्यायिक जांच नही होती और निर्णय नही आता तब तक मे कोई इलाज नही कराऊँगा।
ज्ञानसिंह परते ने लिखित में दिया कि केंद्र सरकार से न्यायिक गुहार लगा रहा है। शांतिपूर्ण तरीके से लगातार संवैधानिक तरीके से आंदोलन, भूख हड़ताल पर बैठे रहेंगे।
वर्तमान सरकार जल्द से जल्द हमारी मांगो को पूरा कर बैतुल में उपचुनाव कराकर आदिवासी समाज के साथ न्याय करने का अनुरोध किया है।

आदिवासी संगठन और आदिवासी समाज को मजबूती देने रिंकू सक्सेना, अनिल कुबड़े, सलमान खान, सोनू वाहने, मुकेश मालवीय, जिला पंचायत सदस्य मुकेश इवने, आदिवासी छात्र संगठन प्रदेश अध्यक्ष रामु टेकाम, दीपक नामदेव, राजेश कुमार धुर्वे, संदीप धुर्वे, मनीष कुमार धुर्वे, मनोज उइके, प्रदुम्न उइके, राहुल मर्सकोले, सेवाराम इवने, शारदा सरियाम, जितेंद्र सिंह इवने, सुनिल कुमार कवड़े, अभिषेक इरपाचे, राजू उइके, मनोज उइके, पप्पू जागने, दीपक नामदेव आदि युवा लोगों ने भूख हड़ताल में शामिल होकर वर्तमान भाजपा सरकार की मंशा पर सवाल खड़ा कर दिया है।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here