वॉलिंटियर्स से मुखातिब हुए केजरीवाल, मेट्रो के मुद्दे पर केंद्र को घेरा

0
21

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने रविवार को आम आदमी पार्टी (AAP) वॉलिंटियर्स को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने जीएसटी और दिल्ली मेट्रो के किराए में वृद्धि को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा। करीब डेढ़ महीने के बाद वालिंटियर्स से संबोधित होते हुए केजरीवाल ने मेट्रो के फायदे गिनाते हुए केंद्र सरकार पर तंज कसा। केजरीवाल ने कहा, ‘मेट्रो एक बेहद आरामदायक साधन है। इससे सड़कों पर वाहनों की भीड़ कम होती है, प्रदूषण कम होता है। महिलाएं सुरक्षित महसूस करती हैं। मेट्रो मुनाफा कमाने के लिए नहीं बनाया गया था, लेकिन केंद्र सरकार कहती है कि किराया नहीं बढ़ाया तो घाटा हो जाएगा।’

केजरीवाल ने आगे कहा कि हमने घाटा आपस में बांट लेने का भी सुझाव दिया, लेकिन केंद्र ने इसे नहीं माना। इस फैसले से लोओर मिडल क्लास लोगों के लिए मेट्रो में सफर करना नामुमकिन हो गया है। सीएम ने कहा, ‘मेरे ऊपर लोग आरोप लगाते हैं कि मैं बहुत लड़ता हूं। मैं आप लोगों से पूछता हूं कि मैं मेट्रो को लेकर लड़ू या न लड़ूं? मैं तो आप लोगों के लिए ही आवाज उठाता हूं।’

उन्होंने जीएसटी को लेकर भी केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को आड़ों हाथे लिया और कहा, ‘जीएसटी को लेकर लोगों के मन में काफी दुविधा है। टैक्स रेट काफी है। इतनी जटिलताएं हैं। लोग सोचते हैं कि काम करें या जीएसटी के फॉर्म भरें।’ केजरीवाल ने कहा कि जीएसटी के कारण लोगों के कामधंधे बंद हो रहे हैं लोग बेरोजगार हो रहे हैं। बेरोजगारी से अपराध बढ़ेगा और पुलिस की मुश्किल बढ़ेगी।

AAP के संयोजक केजरीवाल ने कहा कि मैंने और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने सोचा कि हम अपने स्तर पर क्या कर सकते हैं। हमने 70 स्किल सेंटर बनाने का फैसला किया है ताकि लोगों को रोजगार मिले। हम अगले एक साल के भीतर 25 स्किल सेंटर खोलेंगे और 25000 लोगों की ट्रेनिंग देंगे। केजरीवाल ने अंत में लोगों को छठ पूजा की बधाई देते हुए कहा कि दिल्ली सरकार ने इस बार 565 छठ घाट बनाए हैं जिनमें कई पक्के घाट भी हैं और बाकी घाटों को पक्का बनाने का काम चल रहा है।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here