ईज ऑफ डूइंग बिजनेस रैंकिंग में भारत ने लगाई 23 अंकों की ऐतिहासिक छलांग, दिल्ली सरकार का रहा बड़ा योगदान | Best countries to start a business

0
1161

वर्ल्ड बैंक द्वारा जारी इज ऑफ डूइंग बिजनेस की वैश्विक रैंकिंग में भारत 23 स्थान की ऐतिहासिक बढ़त हांसिल करते हुए 77 वें स्थान पर पहुंच गया है। पहले 190 देशों में भारत 100 वें स्थान पर था। दक्षिण एशियाई देशों में अब भारत Best countries to start a business में नम्बर 1 पर है। जबकि पहले इसमें भारत 6 वें स्थान पर था।

यह ईज ऑफ डूइंग बिजनेस रैंकिंग देश के दो बड़े मेट्रो शहरों दिल्ली और मुंबई में राज्य सरकारों द्वारा व्यापार स्थापित करने के लिए उपलब्ध कराए जा रही सुविधाओं और बेहतर माहौल पर आधारित है। इसके लिए वर्ल्ड बैंक द्वारा छोटे और बड़े सभी व्यापारियों से फीडबैक लिया गया है। चूंकि काम-धंधा जमाने के लिए स्थानीय स्तर पर ही सुविधा की जरूरत होती है।

इसके लिए वर्ल्ड बैंक ने 10 मापदंड तय किये थे “बिजनेस की शुरुआत, निर्माण की इजाजत, इलेक्ट्रिसिटी कनेक्शन, प्रॉपर्टी का रजिस्ट्रेशन” इसके अलावा “क्रेडिट मिलना, टैक्स संरचना, छोटे निवेशकों का संरक्षण, सीमापार व्यापार, प्रवर्तनीय अनुबंध और दिवालियेपन का समाधान।”

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने मीडिया से बातचीत में कहा कि इनमें बहुत से अहम कारक राज्य सरकार पर निर्भर करते हैं; राज्य सरकार के बिना ईज ऑफ डूइंग रैंकिंग में यह बढ़त सम्भव नहीं थी इसलिए राज्य सरकारों को व्यापार के लिए आसान और बेहतर माहौल उपलब्ध कराने का क्रेडिट मिलना चाहिए। दिल्ली में इंस्पेक्टर राज खत्म करने, बिजली की उपलब्धता बढ़ाने और बिजनेस शुरू करने के लिए परमिट जैसे अधिकतर मापदंडों में पिछले 3 से 4 सालों में बड़ा सुधार हुआ है।

हालांकि PM मोदी दिल्ली सरकार को सीधे क्रेडिट देने से बचते नजर आए, उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि ‘ईज ऑफ डूइंग रैंकिंग में भारत की ऐतिहासिक छलांग “टीम इंडिया” द्वारा मल्टी सेक्टर और सभी व्यापार में किये सुधारों का परिणाम है।’  Best countries to start a business में भारत अब एशियाई देशों में नम्बर 1 और 190 देशों की वैश्विक रैंकिंग में 77 वें स्थान पर है।

प्लानिंग कमीशन के पूर्व मेम्बर रहे अरुण माईरा ने कहा कि, रैंकिंग का मूल्यांकन सिर्फ दो मेट्रो सिटी दिल्ली और मुंबई पर आधारित है इसलिए राज्य सरकारों को इसका बड़ा क्रेडिट दिया जा सकता है। लेकिन सवाल यह है कि इन दो बड़े शहरों के अलावा भी बाकी देश में व्यापार के लिए कैसे माहौल है यह भी देखना अधिकतर निवेशकों के लिए जरूरी है।

दिल्ली और मुंबई की तरह बाकी शहरों में भी व्यापार के लिए बेहतर माहौल बनाना होगा। ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में बेहतर रैंकिंग का मतलब यह है कि भारत में व्यापार करने के लिए माहौल अच्छा है बावजूद इसके भारत देश में इस समय छोटे और मध्यम उद्योग सिकुड़ रहे हैं क्योंकि नोटबंदी और उसके बाद तुरंत जीएसटी की मार से यह तबका अभी उबर नहीं पाया है।



*This is a personal blog. All content provided on this blog is for informational purposes only. The owner of this blog makes no representations as to the accuracy or completeness of any information on this site.

Leave a Reply