व्यापारियों पर रेड के जरिये रिश्वत मांगना पड़ेगा भारी, दिल्ली सरकार ने मदद को वाट्सएप नंबर किया जारी। पैसे मांगने वाले अधिकारी की खींचे फोटो, हम पहुंचाएंगे उसको जेल की सलाखों के पीछे। : मनीष सिसोदिया

0
540
दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि टैक्स सर्वे के नाम पर दिल्ली के व्यापारियों का शोषण नहीं होने देगी आप की केजरीवाल सरकार। कल शुक्रवार को दिल्ली के उपमुख्यमंत्री सिसोदिया जी ने NDMC कन्वेंशन सेंटर में दिल्ली के व्यापारियों को बुलाकर उनके साथ संवाद कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि यदि कोई अधिकारी आपसे पैसे मागता है तो उसकी फोटो मुझे वाट्सएप कर दीजिएगा। दिल्ली सरकार उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई करते हुए उसे जेल भिजवाएगी।
मनीष सिसोदिया जी ने अपना व्हाट्सएप मोबाइल नंबर भी व्यापारियों के साथ साझा करते हुए कहा कि मुझे जानकारी मिली है कि कुछ अधिकारी व्यापारियों के यहां जाकर सर्वे करते हैं और त्योहारों के नाम पर पैसे मांगते हैं। मुझे नहीं पता की यह कितना सच है, लेकिन अगर कोई ऐसा कर रहा है तो परेशान मत होइये उसकी जानकारी आप मुझे दीजिए हम उसके खिलाफ कार्यवाही करेंगे।
हमने चुनाव से पहले वादा किया था कि टैक्स कम रखेंगे और रेड माफिया को बंद करवाएंगे क्योंकि हम दूसरी सरकारी की तरह ये नहीं मानते की व्यापारी चोर होता है हमारा मानना है कि अगर सरकार ईमानदारी से काम करे और व्यापारियों को परेशान ना करे तो व्यापारी भी ईमानदारी से पूरा टैक्स जमा करते हैं।
उन्होंने बताया कि हमने अपने दोनों वादे पूरे किए। सरकार में आते ही वैट सबसे कम कर दिया साथ ही रेड माफिया पर भी रोक लगाई जो बार-बार दुकानों पर रेड डाल उनसे रिश्वत ऐंठते थे। इसका नतीजा ये मिला कि दिल्ली के व्यापारियों ने ईमानदारी से अपना टैक्स जमा कराया और दिल्ली में टैक्स कलेक्शन की ग्रोथ रेट 27% तक बढ़ गयी।
Also Read : #BREAKING : ऑफिस ऑफ प्रॉफिट केस में AAP MLA’s को मिली जीत, 27 AAP MLA पर दर्ज ऑफिस ऑफ प्रॉफिट का केस EC ने किया खारिज, राष्ट्रपति ने दी मंजूरी।
मनीष सिसोदिया ने बताया कि अप्रैल से लेकर अब तक 110 सर्वे किए गए, जिनमें केवल एक व्यापारी के यहा 72 लाख रुपये के टैक्स का मामला पाया गया। बाकी में बहुत छोटी-छोटी मामूली राशियों के मामले मिले। तो हम नहीं चाहते कि बेवजह व्यापारियों को परेशान किया जाए और इसका असर दिल्ली की के टैक्स कलेक्शन की ग्रोथ रेट पर पड़े। आपके टैक्स का 1-1 पैसा हम ईमानदारी से आपके और आपके बच्चों का भविष्य संवारने में लगा रहे हैं इसलिए आप सब भी ईमानदारी से अपना पूरा टैक्स जमा कराएं।
दिल्ली सरकार ने विभाग को लिखित निर्देश दिया है कि दिवाली तक किसी व्यापारी के दफ्तर या दुकान पर सर्वे के लिए कोई अधिकारी नहीं जाएगा। उन्होंने बताया कि अब सब कुछ ऑनलाइन हो गया है। आप सभी व्यापारी अपनी जरूरी सूचनाएं ऑनलाइन भरें। ईमानदारी से टैक्स चुकाएं, आपको परेशान नहीं होने दिया जाएगा।
Also Read : केजरीवाल के मंत्री पर 100 करोड़ की टैक्स चोरी के आरोप का सच। 60 घण्टे चली इनकम टैक्स रेड, खोदा पहाड़ निकली चुहिया !
उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ये भी कहा कि सूचना मिली है कि कुछ अधिकारी चुनाव के नाम पर चंदे के रूप में व्यापारियों से पैसे माग रहे हैं। उन्होने बताया कि हम तो ईमानदारी से कम करते हैं यही वजह है कि हमारी आम आदमी पार्टी घर-घर जाकर चुनाव के लिए 100-100 रुपये का चंदा इकट्ठा कर रही है। अगर कोई अधिकारी आपसे ऐसा कुछ कहकर पैसे मांगता है तो उसे एक भी रुपये मत देना बस उसका फोटो खींचकर मुझे वाट्सएप कर देना।


Important :   *This is a personal blog. All content provided on this blog is for informational purposes only. The owner of this blog makes no representations as to the accuracy or completeness of any information on this site.    

Leave a Reply